रूस समर्थित एक अलगाववादी ने सोमवार को दावा किया कि यूक्रेन के डोनेट्स्क क्षेत्र में यूक्रेन की सेना के हमले में पांच लोग मारे गए और 22 घायल हो गए। रूसी समाचार एजेंसी ने बाद में बताया कि यूक्रेन के हवाई हमले ने डोनेट्स्क में एक प्रसूति अस्पताल पर हमला किया, जिसके बाद उसमें आग लग गई। इससे वहां अफरातफरी मच गई। बेसमेंट में मरीजों को भेजा जाने लगा। रॉयटर्स के मुताबिक की और के की तरफ से इन खबरों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

रूस की TASS समाचार एजेंसी ने कहा कि अलगाववादी अधिकारियों ने कहा कि पांच लोगों की मौत हो गई। डोनेट्स्क के अलगाववादी नेता डेनिस पुशिलिन ने रूसी सेना से यूक्रेन के हमले का जवाब देने का आग्रह किया है। यूक्रेन ने शुरुआत से ही डोनेट्स्क और लुहान्स्क पर किसी भी हमले से इनकार किया है। आपको बता दें कि यहां 2014 से अलगाववादियों का कब्जा है। वहीं रूस ने इस बात से भी इनकार किया है कि वह किसी ऐसे इलाके को निशाना नहीं बनाता जहां लोग रहते हैं। उल्लेखनीय है कि 24 फरवरी को यूक्रेन में शुरू हुए रूसी आक्रमण के दौरान हजारों मौतें हुई हैं और यूक्रेन के कई शहर तबाह हो चुके हैं।

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी, अलगाववादियों का दावा- डोनेट्स्क में यूक्रेन का हमला, पांच की मौत और 22 घायल

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने ओलाफ़ स्कोल्ज़ से कीव के लिए अपना पूरा समर्थन देने के लिए कहा। दरअसल, स्कोल्ज़ का गुरुवार को कीव जाने का कार्यक्रम है। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू होने के बाद से कीव की यह उनकी पहली यात्रा है। ज़ेलेंस्की ने यह बयान जर्मन सार्वजनिक प्रसारक द्वारा दिया

See also  India-Russia friendship unbreakable: PM Modi may meet Russian foreign minister, did not give time to Chinese FM

युद्ध ने यूक्रेन की कृषि उपज पर गंभीर असर डाला है। इस बार रूस के हमलों से बचाई गई कृषि से 48.85 मिलियन टन खाद्यान्न का उत्पादन होने का अनुमान है। इसमें गेहूं की मात्रा 20 लाख टन है। जबकि पिछले साल शांति काल के दौरान देश में खाद्यान्न उपज 86 लाख टन थी।